Gurugram News : नकली जज बनकर लोगों को ठगने वाला व्यक्ति गिरफ्तार, काफी लोगो के साथ ठगी कर चुका है
Gurugram News : नकली जज बनकर लोगों को ठगने वाला व्यक्ति गिरफ्तार, काफी लोगो के साथ ठगी कर चुका है

Gurugram News : नकली जज बनकर लोगों को ठगने वाला व्यक्ति गिरफ्तार, काफी लोगो के साथ ठगी कर चुका है

थाना सैक्टर-14 गुरुग्राम मे फर्जीवाड़े की अनेक धाराओं मे मुकदमा दर्ज करके कल दिनांक 23.09.2018 को किया गया है गिरफ्तार।

गिरफ्तार युवक का नाम केदारनाथ सागर शर्मा पुत्र मनोज कुमार निवासी इंदिरा नगर कॉलोनी, बरासी गुढ़ा सिकंदराबाद, हैदराबाद। युवक की उम्र लगभग 29 साल है।

Mayfield गार्डेन सैक्टर-51 गुरुग्राम के निवासी व सैक्टर-14 थाना एरिया मे कार accessories (Batra Car Care) की दुकान चलाने वाले एक व्यक्ति ने पुलिस को सूचित किया कि एक व्यक्ति से उसकी पहचान दुकान पर हुई थी। कुछ समय बाद उसने ज्यादा जान पहचान बना ली और उसे सस्ती कीमत पर सैक्टर-102 गुरुग्राम की एक सोसाइटी मे EWS Flat देने की बात कहकर 4 लाख रुपए ले लिए थे। वह अपने आप को तेलंगाना राज्य मे सीनियर जज के पद पर तैनात बता रहा था। उसे ना तो फ्लैट मिला और ना ही वह रुपए लौटा रहा था इस पर उसे शक होने पर उसने उसके साथ हुई इस ठगी बारे पुलिस को सूचित किया।

सूचना मिलने पर उरोक्त युवक को काबू किया तथा पूछताछ की गई तो ज्ञात हुआ कि वह तेलंगाना मे जज नहीं है बल्कि अपने आप को जज बताकर लोगों के साथ अलग-अलग तरीके से ठगी करता है। पूछताछ पर इसने निम्नलिखित खुलासे किए:-

● ठगी करने के लिए रौब जमाने के लिए यह दिल्ली नंबर की एक 5 सिरीज़ गाड़ी रखता है तथा उस गाड़ी पर इसने “Senior Civil Judge” की प्लेट भी लगा रखी है।

● पिछले लगभग 6 महीने से यह गुरुग्राम के सैक्टर-102 की Heritage Max सोसाइटी के फ्लैट न0 D-1801 मे रह रहा था।

● इसने बताया कि इसने एक महिला को भी झांसा देकर फंसा रखा था जिसे कभी कभी वह अपने साथ अपने फ्लैट पर रखता था तथा उसके भाई को नेवी मे नौकरी लगवाने के नाम पर उस महिला से भी इसने कई लाख रुपए ठग रखे हैं।

● इसके माता पिता हैदराबाद मे ही रहते हैं वर्ष 2012 मे यह अपने घर से आया था तथा इसका उनसे कम ही संपर्क रहता है।

● हैदराबाद के ही एक नामी संस्थान से इसने B.Tech. (C.S.E.) की डिग्री कर रखी है तथा इसने बतलाया कि वर्ष 2012 से 2016 तक इसने कई कंपनियों मे नौकरी भी की है।

● केंद्रीय विद्यालय मे एड्मिशन के नाम पर 2 दर्जन से भी अधिक बच्चो के परिजनों से 40 से 50 हजार प्रति बच्चा लिए हैं। इन बच्चो का एड्मिशन हुआ या नहीं इस बारे पता किया जा रहा है।

● अपने आप को इसने All India Institute of Medical Sciences (AIIMS) मे बतौर IAS अधिकारी नियुक्त हुआ बतलाकर लोगों को AIIMS मे Group-D की नौकरी दिलाने के नाम पर भी लाखों रुपए ठगे हैं।

● पिछले कुछ महीनों मे यह बतौर जज कई बार PWD Rest House मे भी रुका था। इसके पास Senior Civil Judge के नकली पहचान पत्र भी मिले हैं। इसके अतिरिक्त इसके पास IAS, Senior Civil Judge, School व अन्य कई प्रकार की नकली मोहरें भी बरामद हुई हैं।

इसे माननीय अदालत मे पेश किया गया था जहां से पूछताछ व बरामदगी हेतू पुलिस हिरासत मे दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here